सिया राम में यारा यारा लिरिक्सsiya ram me yaara yaara

सिया राम में यारा यारा सीता राम में तारा
मोहन की धेनु से बरसे प्रेम की अमृत धारा,
बोलो राम राम बोलो श्याम श्याम

मेघा ने प्रभु की पग रज को चन्दन समज लगाया
शबरी की झूठे वेरो में प्रेम प्रभु का है पाया
अर्जुन वीर भक्त बजरंगी जपते जिनके नाम
बोलो राम राम बोलो श्याम श्याम

गीता ग्रन्थ में कृष्ण बड़े है रामायण में राम
जिसने पूजा पड़ा प्रेम से राहा सुखन परिणाम
है जीवन सार इसी में यही मुक्ति धाम
बोलो राम राम बोलो श्याम श्याम

है जीवन जगत का इक दिन छोड़ के जाना
दोलत के दीवाने लुटे तेरा माल खिजाना
दान धर्म कर दीं दुखी को हाथ जोड़ परनाम
बोलो राम राम बोलो श्याम श्याम

siya raam mein yaara yaara seeta raam mein taara
mohan kee dhenu se barase prem kee amrt dhaara,
bolo raam raam bolo shyaam shyaam

megha ne prabhu kee pag raj ko chandan samaj lagaaya
shabaree kee jhoothe vero mein prem prabhu ka hai paaya
arjun veer bhakt bajarangee japate jinake naam
bolo raam raam bolo shyaam shyaam

geeta granth mein krshn bade hai raamaayan mein raam
jisane pooja pada prem se raaha sukhan parinaam
hai jeevan saar isee mein yahee mukti dhaam
bolo raam raam bolo shyaam shyaam

hai jeevan jagat ka ik din chhod ke jaana
dolat ke deevaane lute tera maal khijaana
daan dharm kar deen dukhee ko haath jod paranaam
bolo raam raam bolo shyaam shyaam

Leave a Comment