साईं के दरबार में(sai ke darbar me)

sai ke darbar mein lyrics in hindi

खुशियों के दीपक जलते है,
साईं के दरबार में,
दुःख भी सारे सुख लगते है साईं के दरबार में

जिसने कभी उठाया साईं नाम जपंन का बीड़ा,
अनजाने में हर ली उसकी साईं ने हर पीड़ा
अन चाहे बादल छट ते है साईं के दरबार में,

जिस प्राणी ने सचे मन से साईं नाम पुकारा
रूप बदल कर आये साईं उसका भ्ग्ये सवारा,
बिगड़े भाग्ये सदा बनते है,साईं के दरबार में,

कट जाती है साईं जाप से वैरन काली राते
पूरी करते शिर्डी वाले मन की सभी मुरादे
अजल सभी भेवव मिलते है
साईं के दरबार में,

sai ke darbar mein lyrics in english

khushiyon ke deepak jalate hai,
saeen ke darabaar mein,
duhkh bhee sabhee sukh lagate hai saeen ke darabaar mein

jisane kabhee saeen naam japan ka beeda uthaaya,
anajaane mein har lee usakee saeen ne harayaanavee
an chaahe baadal chhat te hai saeen ke darabaar mein,

jis praanee ne man se saeen naam pukaara
roop badal kar aaye saeen usaka bhgye savaara,
bigade bhaagye sada banate hai, saeen ke darabaar mein,

kat jaata hai saeen jaap se vairan kaalee raate
pooree karate shirdee vaale man kee sabhee muraade
agal sabhee bhevav milate hai
saeen ke darabaar mein,

sai ke darbar mein lyrics

Leave a Comment