मेरी सुध लीजिये मेरे राम जी लिरिक्सmeri sudh lijiye mere ram ji

मेरी सुध लीजिये मेरे राम जी
तूने भगतो के सारे कष्ट निवारे सारे पुरे किये है काम जी
मेरी सुध लीजिये मेरे राम जी

भव नदिया मैं दर में चला मेरे विस्वाश की नाव में
धुडता हु मैं इक आसारा तेरी ही करुना की छाव में
मैं निर्बल यही बल मेरे पास है
झूठा सांचा तेरा नाम जी
मेरी सुध लीजिये मेरे राम जी

प्रभु दीनो के तुम हो सखा भीलनी के फलो को चखा
मान अपना भुला कर सदा मान दासो का तूने रखा
बात यु ही नही भगतो ने है कही श्री चरण में तेरे
सुख धाम जी
मेरी सुध लीजिये मेरे राम जी

मैं रहू या दूर पास हु तेरा बेटा तेरा दास हु
पालना ही पड़ेगा तुझे मैं भले ना कोई ख़ास हु
भूल कर प्रीत की रीत का है अब नाम अपना करो बदनाम जी
मेरी सुध लीजिये मेरे राम जी

meree sudh leejiye mere raam jee
toone bhagato ke saare kasht nivaare saare pure kiye hai kaam jee
meree sudh leejiye mere raam jee

bhav nadiya main dar mein chala mere visvaash kee naav mein
dhudata hu main ik aasaara teree hee karuna kee chhaav mein
main nirbal yahee bal mere paas hai
jhootha saancha tera naam jee
meree sudh leejiye mere raam jee

prabhu deeno ke tum ho sakha bheelanee ke phalo ko chakha
maan apana bhula kar sada maan daaso ka toone rakha
baat yu hee nahee bhagato ne hai kahee shree charan mein tere
sukh dhaam jee
meree sudh leejiye mere raam jee

main rahoo ya door paas hu tera beta tera daas hu
paalana hee padega tujhe main bhale na koee khaas hu
bhool kar preet kee reet ka hai ab naam apana karo badanaam jee
meree sudh leejiye mere raam jee

Leave a Comment