लगे दुल्हन सी अवध नगरी मेरे प्रभु राम आये है लिरिक्स lage dulhan si avadh nagari mere prabhu ram aaye hai

जलाओ दीप घर घर में मेरे प्रभु राम आये है
लगे दुल्हन सी अवध नगरी मेरे प्रभु राम आये है

हुए अरमान अब पुरे जो बरोसे से हिरदये में थे,
जन्म भूमि पे मंदिर हो प्रभु तम्बू में कब से थे,
लो अब आई है शुभ वेला जीतने संग्राम आये है
लगे दुल्हन सी अवध नगरी मेरे प्रभु राम आये है

तभी संतो का भगतो का हुआ संकल्प अब पूरा
बहुत पेहले जो होना या हुआ अब काम वो पूरा,
करो जय गोश सब मिल कर जीत संग्राम आये है
लगे दुल्हन सी अवध नगरी मेरे प्रभु राम आये है

दीवाने राम जी के हम राम प्राणों से प्यारे है
अवध नगरी के कं कं में वसे राघव हमारे है
करो गुणगान सब मिल कर अवध की शान आये है
लगे दुल्हन सी अवध नगरी मेरे प्रभु राम आये है

jalao deep ghar ghar mein mere prabhu raam aaye hai
lage dulhan see avadh nagaree mere prabhu raam aaye hai

hue aramaan ab pure jo barose se hiradaye mein the,
janm bhoomi pe mandir ho prabhu tamboo mein kab se the,
lo ab aaee hai shubh vela jeetane sangraam aaye hai
lage dulhan see avadh nagaree mere prabhu raam aaye hai

tabhee santo ka bhagato ka hua sankalp ab poora
bahut pehale jo hona ya hua ab kaam vo poora,
karo jay gosh sab mil kar jeet sangraam aaye hai
lage dulhan see avadh nagaree mere prabhu raam aaye hai

deevaane raam jee ke ham raam praanon se pyaare hai
avadh nagaree ke kan kan mein vase raaghav hamaare hai
karo gunagaan sab mil kar avadh kee shaan aaye hai
lage dulhan see avadh nagaree mere prabhu raam aaye hai

Leave a Comment