है तू मंगल मूर्तिhai tu mangal murti

है तू मंगल मूर्ति,देवा कामना पूर्ति,
रिधि सीधी के स्वामी देवा

प्रभु नित करे अराधना मेरे कंठ में संगीत दे,
हम है याशक तुम हो दाता भगती का आशीष दे,
हे मेरे गणपति देवा सिद्ध करो सब की सेवा,

विख्ले स्वर विघन हरता देवा विघन के राज है,
चतरबुज गनो के राजा देवा राजा भी राज है
हम तो है अज्ञान प्रभु हमें ग्यानी गुण के सीख दे,
हम है याशक तुम हो दाता भगती का आशीष दे,
हे मेरे गणपति देवा सिद्ध करो सब की सेवा,

तेरे चरणों में विराजे रिधि सीधी देवियाँ
लोब सुध सूत दो है प्यारे तुम याहा सब सिधिया,
हम प्रजा है तेरी देवा तू दया की भीख दे
हम है याशक तुम हो दाता भगती का आशीष दे,
हे मेरे गणपति देवा सिद्ध करो सब की सेवा,

शीश कंचन मुकट श्री इक दंत की प्रतिमा बड़ी
शुप कण चतुर बुजी देवेश की महिमा बड़ी
हम प्रजा है तेरी देवा तू दया की भीख दे
हम है याशक तुम हो दाता भगती का आशीष दे,
हे मेरे गणपति देवा सिद्ध करो सब की सेवा,

hai mangal mangal moorti, deva kaamana poorti,
ridhi seedhee ke svaamee deva

prabhu nit kare araadhana mere kanth mein sangeet de,
ham hai orashak tum ho daata bhagatee ka aasheesh de,
he mere ganapati deva siddh do sab kee seva,

vikhle svar vighan harata deva vighan ke raaj hai,
chatarabuj gano ke raaja deva raaja bhee raaj hai
ham to agyaan haavee hai jiyaanee gun ke seekh de,
ham hai orashak tum ho daata bhagatee ka aasheesh de,
he mere ganapati deva siddh do sab kee seva,

tera charan mein viraaj ridhi seedhee deviyaan
lob sudh soot do hai pyaare tum ya aasha sab sidhiya,
ham praja ne teree deva too daya kee bheekh de
ham hai orashak tum ho daata bhagatee ka aasheesh de,
he mere ganapati deva siddh do sab kee seva,

sheesh kanchan mukat shree ik dant kee pratima badee
shup bhaag klastar bujee devesh kee mahima badee
ham praja ne teree deva too daya kee bheekh de
ham hai orashak tum ho daata bhagatee ka aasheesh de,
he mere ganapati deva siddh do sab kee seva,

Leave a Comment