शिव शंकर पिता पिता गोरा माताshiv shankar pita pita gora mata

देवो में श्री गजानन सब से बड़े खिलाड़ी
अद्भुत है रूप इनका मुश्क है उनकी गाडी
मोदक है मन को भाये छवि इनकी मन लुभाए
और शिव शंकर पिता पिता गोरा माता,

लम्बोदर नाम है बॉडी कुछ फैट है
बड़ा सुंड है वाहन छोटा सा रैट है
इक दंत फोर हैण्ड पॉवर फुल ग्रेट है,
किरपा जो इनकी इक दिस्पेट है,
शिव शंकर पिता पिता गोरा माता,

सुंदर से नैना है बुधि बिरियंट हिया ह्यूमन है आधा आधा एलिफेंट है
शुभ लाभ के पापा सब से डिसेंट है रिधि सीधी के लवली हसबेंड है,
शिव शंकर पिता पिता गोरा माता,

हर काज में यही फर्स्ट इनविटे है,
करे इनकी सेवा तो फ्यूचर भी ब्राइट है
इनकी शरण में रहे जो डे नाईट है
खोटा खरा रोंग हो जाता राईट है
शिव शंकर पिता पिता गोरा माता,

devo mein shree gajaanan sab se bade khilaadee
adbhut hai roop inaka mushk hai unakee gaadee
modak hai man ko bhaaye chhavi inakee man lubhae
aur shiv shankar pita pita gora maata,

lambodar naam hai bodee kuchh phait hai
bada sund hai vaahan chhota sa rait hai
ik dant phor haind povar phul gret hai,
kirapa jo inakee ik dispet hai,
shiv shankar pita pita gora maata,

sundar se naina hai budhi biriyant hiya hyooman hai aadha aadha eliphent hai
shubh laabh ke paapa sab se disent hai ridhi seedhee ke lavalee hasabend hai,
shiv shankar pita pita gora maata,

har kaaj mein yahee pharst inavite hai,
kare inakee seva to phyoochar bhee brait hai
inakee sharan mein rahe jo de naeet hai
khota khara rong ho jaata raeet hai
shiv shankar pita pita gora maata,

Leave a Comment