वो और नही प्यारे माँ शेरावाली हैvo or nhi pyaare maa sheravali hai

जिसकी किरपा से मनती मेरी रोज दीवाली है,
वो और नही प्यारे माँ शेरावाली है,

सचे दिल से मैं माँ का शुकर मनाती हु
माँ दोडी आती है जब भी मैं बुलाती हु,
जो ममता की मूरत बड़ी भोली भाली है,
वो और नही प्यारे माँ शेरावाली है,

मेरे जीवन में हर पल खुशियाँ माँ देती है
और बदले में मुझसे कुछ भी न लेती है,
बिन मांगे मेरी झोली जो भरने वाली है,
वो और नही प्यारे माँ शेरावाली है,

भीम सेन मिलता मुझे प्यार जो मैया का
मैं कभी नही भूलू उपकार ये मैया का
मेरी जीवन भगियाँ की मैया करती रखवाली है,
वो और नही प्यारे माँ शेरावाली है,

jinake kirapa se manatee meree roj deevaalee hai,
vah aur nahin pyaare maan sheraavaalee hai,

dar dil se main maan ka shukar manaatee hu
maan dodee aatee hai jab bhee main bulaatee hu,
jo mamata kee moorat badee bholee bhaalee hai,
vah aur nahin pyaare maan sheraavaalee hai,

mere jeevan mein har pal khushiyaan maan detee hai
aur badale mein mujhe kuchh bhee na letee hai,
bin maange meree jholee jo bharane vaalee hai,
vah aur nahin pyaare maan sheraavaalee hai,

bheem sen mujhe pyaar karate hain jo maiya ka
main kabhee nahin bhooloo upakaar ye maiya ka
meree jindagee bhagiyon kee maiya karatee rahatee hai,
vah aur nahin pyaare maan sheraavaalee hai,

Leave a Comment