माँ शेरोवाली जग से निराली सुनती है सबकीmaa sheravali jag se nirali sunti hai sabki

माँ शेरोवाली जग से निराली सुनती है सबकी
जो भी दर पे आये मैं भी दर पे तेरे आ गया
मैं मालामाल हो गया मैं मालामाल हो गया
माँ शेरोवाली जग से निराली ……………..

तेरी दया से ओ मेरी मईया काम हमारा चलता है
तेरे ही सहारे से मेरी मईया परिवार मेरा पलता है
इतनी कृपा बस करना ओ मईया संग हमेश रहना ओ मईया
मुझको तेरा दर ओ मईया भा गया
मैं मालामाल हो गया मैं मालामाल हो गया

बीच भवन में नाव फांसी जब तुमने किनारे लगाया माँ
इस जग में है सबको मईया एक तेरा ही सहारा माँ
एक नज़र कृपा की कर दो झोली है खाली मेरी भर दो
माँगा जिसने तेरे दर से पा गया
मैं मालामाल हो गया मैं मालामाल हो गया

maan sherovaalee jag se niraalee sunatee hai sabakee
jo bhee dar pe aaye main bhee dar pe tere aa gaya
main maalaamaal ho gaya main maalaamaal ho gaya
maan sherovaalee jag se niraalee ……………..

teree daya se o meree maeeya kaam hamaara chalata hai
tere hee sahaare se meree maeeya parivaar mera palata hai
itanee krpa bas karana o maeeya sang hamesh rahana o maeeya
mujhako tera dar o maeeya bha gaya
main maalaamaal ho gaya main maalaamaal ho gaya

beech bhavan mein naav phaansee jab tumane kinaare lagaaya maan
is jag mein hai sabako maeeya ek tera hee sahaara maan
ek nazar krpa kee kar do jholee hai khaalee meree bhar do
maanga jisane tere dar se pa gaya
main maalaamaal ho gaya main maalaamaal ho gaya

Leave a Comment