ओ देवा तेरी क्या शान हैo deva teri kya shan hai

ओ देवा तेरी क्या शान है,
गणेशा तेरी क्या शान है
विनायक तेरी क्या शान है

प्रथम पूजे तुम्हे अंतर यामी
सारी दुनिया तेरी दीवानी
सारे जग का तू है स्वामी
इक तू ही तो महान है
ओ देवा तेरी क्या शान है,

रिधि सीधी के तुम हो दाता तुम ही हमारे भाग्य विध्याता,
हम अज्ञानी हम निर्बल है
इक तू ही तो बलवान है
ओ देवा तेरी क्या शान है,

दीं दुखी है लाज बचा लो चरण पड़े है
शरण लगा लो
बल भुधि विद्या के दाता ज्ञान के तुम भंडार हो
ओ देवा तेरी क्या शान है,

o deva teree kya shaan hai,
ganesh teree kya shaan hai
vinaayak teree kya shaan hai

pratham pooje tume antar oramee
saaree duniya teree deevaanee
sabhee jag ka too hai svaamee
ik too hee to mahaan hai
o deva teree kya shaan hai,

ridhi seedhee ke tum ho daata tum hee hamaare bhaagy vidhaayakata,
ham agyaanee ham nirbal hai
ik too hee to balavaan hai
o deva teree kya shaan hai,

deen dukhee ne laaj bacha lo charan pada hai
reph daal lo
bal bhudhi vidya ke daata gyaan ke tum bhandaar ho
o deva teree kya shaan hai,

Leave a Comment